सूर्य ग्रहण 2022: सूर्य ग्रहण क्यों होता है ? | आज का सूर्य ग्रहण 25 Oct 2022

सूर्य ग्रहण 2022: दोस्तों क्या आप दिवाली पर पड़ने वाले सूर्य ग्रहण के बारे में जानना चाहते हैं | सूर्य ग्रहण क्या होता है ? , सूर्य ग्रहण क्यों पड़ता है ? या गर्भवती महिला पर सूर्य ग्रहण का क्या असर पड़ता है ? इत्यादि जानकारी हम आपको सूर्य ग्रहण 2022 से संबंधित इस पोस्ट में हम देने वाले हैं |

सूर्य ग्रहण 2022

सूर्य ग्रहण 2022 : अगर आप दिवाली के एक दिन बाद 25 अक्टूबर 2022 को पडने वाले सूर्य ग्रहण के बारे में जानना चाहते हैं, कब यह सूर्य ग्रहण किस समय लगेगा | तो इस पोस्ट को आप पूरा पढ़ सकते हैं | इस पोस्ट में आपको सूर्य ग्रहण से संबंधित कई सारी जानकारी मिलने वाली है | 

सूर्य ग्रहण क्या होता है? 

अगर आप भी गूगल पर सर्च कर रहे हैं कि सूर्य ग्रहण क्या होता है ? (Surya Grahan Kya hota hai ? ) तो आप एकदम सही पोस्ट पढ़ रहे हैं इस पोस्ट में हम आपको बताने वाले हैं कि सूर्य ग्रहण क्या होता है ? सूर्य ग्रहण ना केवल भारतीय हिंदू धर्म में बल्कि विज्ञान में भी काफी ज्यादा महत्वपूर्ण खगोलीय घटना मानी जाती है | 

अतः इस तरीके से कह सकते हैं कि सूर्य ग्रहण एक ऐसी कव्वाली घटना है , जिसमें अपनी गति के दौरान चंद्रमा पृथ्वी तथा सूरज के मध्य आ जाता है | इस वजह से यह तीनों सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी एक सीधी रेखा में दिखाई देते हैं | इसी कारण सूरज की रोशनी पृथ्वी पर नहीं पड़ पाती है, और इस घटना को सूर्य ग्रहण कहते हैं | 

सूर्य ग्रहण क्यों पड़ता है ? 

दोस्तों अगर आपके मन में भी यह सवाल उठ रहा है कि- सूर्य ग्रहण क्यों पड़ता है ? , तो हम आपकी जानकारी दीजिए कि बता देना चाहते हैं कि सूर्य ग्रहण एक खगोलीय घटना होती है | अतः हम सभी लोग जानते हैं कि अंतरिक्ष में सभी पिंड ऑब्जेक्ट हमेशा गतिमान अवस्था में रहते हैं | यह सभी ऑब्जेक्ट गति अपने अपने अक्ष पर रहकर करते हैं | इसी गति की वजह से चंद्रमा एक निश्चित समय के दौरान सूर्य तथा दूरी के बीच में एक सीधी रेखा में आ जाता है | इसी वजह से सूर्य ग्रहण पड़ता है | अतः अब आपको समझ आ गया होगा कि सूर्य ग्रहण क्यों पड़ता है ? 

आज का सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर 2022 

सभी लोग जानते हैं कि आज दीपावली 2022 है | दीपावली के अवसर पर 25 अक्टूबर 2022 को सूर्य ग्रहण पड़ रहा है | इस वजह से दीपावली की कई सारे त्यौहार हमें कुछ सावधानी के साथ बनाने पड़ेंगे | जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं कि 25 अक्टूबर को गोवर्धन पूजन है, अतः हम गोवर्धन पूजन को 25 अक्टूबर को ना सेलिब्रेट करते हुए उसके अगले दिन करने वाले हैं | 

पता आपको बता दें कि भारतीय ज्योतिष शास्त्रों के मुताबिक 1 साल 2022 में कार्तिक मास में दो सूर्य ग्रहण पड़ने वाले हैं | ऐसा संयोग कई सालों के बाद बन रहा है | इसमें से पहला सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर 2022 को मंगलवार के दिन तथा दूसरा सूर्य ग्रहण 8 नवंबर को पडने वाला है |

कई सारे वैज्ञानिकों का कहना है कि मंगलवार को 25 अक्टूबर 2022 के दिन पड़ने बाला सूर्य ग्रहण 2022 भारत से तो दिखाई देगा ही | इसके अलावा दुनिया के कई सारे हिस्सों जैसे कि यूरोप, उत्तरी अफ्रीका, मध्य पश्चिम एशिया के क्षेत्रों से भी दिखाई देने वाला है | जानकारी के मुताबिक यह सूर्य ग्रहण 7 घंटा 5 मिनट तक रहने वाला है, जो कि मंगलवार को 11:28 श्री शुरू होकर शाम को 6:33 तक समाप्त होने वाला है | इसके अलावा अगर हम सूतक की बात करें तो सूतक 12 घंटे पहले ही शुरू हो जाएगा | जिसके शुरू होते ही मंदिरों के पट बंद कर दिए जाएंगे | 

सूर्य ग्रहण के समय गर्भवती महिला को बाहर क्यों नहीं निकलना चाहिए ?

अगर आप एक गर्भवती महिला है, तो आपको अपने बड़े बूढ़े पुराने लोगों के द्वारा यह सलाह दी गई होगी कि आपको सूर्य ग्रहण के अंतराल में बिल्कुल भी कमरे से बाहर नहीं निकलना चाहिए ? ऐसा उन्होंने क्यों कहा अगर आप भी यह जानना चाहते हैं तो इसका जवाब नीचे आपको मिल जाएगा | 

एक गर्भवती महिला को सूर्य ग्रहण के दौरान घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए ? क्योंकि कई सारे वैज्ञानिक कहते हैं कि सूर्य ग्रहण के दौरान सूर्य की किरणें डायरेक्ट चंद्रमा पर पड़ती है | इस वजह से चंद्रमा पर से टकराकर यह करने कई सारी खतरनाक रेडिएशन का रूप धारण कर लेती है |

अगर यह रेडिएशन आप पर पड़ती हैं, तो इससे आपके बच्चे पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रकार के प्रभाव पड़ सकते हैं | लेकिन कुछ वैज्ञानिकों कहना है कि ज्यादातर ऐसी घटना में बच्चे पर नकारात्मक प्रभाव देखें गए हैं | इसलिए गर्भवती महिलाओं को घरों से बाहर सूर्य ग्रहण के समय बिल्कुल भी नहीं निकलना चाहिए |