पत्रकार सिद्दीकी कप्पन : क्या है पत्रकार सिद्धि कप्पन का पूरा केस जानिए |

पत्रकार सिद्दीकी कप्पन : क्या है पत्रकार सिद्धि कप्पन का पूरा केस जानिए |

पत्रकार सिद्दीकी कप्पन केस : दोस्तों क्या आप पत्रकार सिद्दीकी कप्पन के केस के बारे में जानना चाहते हैं, तो आप एकदम सही पोस्ट पढ़ रहे हैं | आखिर भारत के नए चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया ने पत्रकार सिद्दीकी कप्पन को कुछ रियायतें पर करीब 2 साल बाद जेल से रिहा कर दिया है | 

पत्रकार सिद्दीकी कप्पन

पत्रकार सिद्दीकी कप्पन पर 2 साल पहले लोगों को भड़काने के मामले के केस में कोर्ट के द्वारा सजा दी गई थी | दरअसल पत्रकार सिद्दीकी कप्पन को हाथरस गैंगरेप के हिंसा फैलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था | इससे पहले भी इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पत्रकार सिद्दीकी कप्पन के जमानत की अर्जी को खारिज कर दिया था | 

क्या है सिद्दीकी कप्पन केस 

दोस्तों साल 2020 में हमारे सामने एक हाथरस गैंगरेप का केस आया था | उसी समय की बात है कि पत्रकार सिद्दीकी कप्पन हाथरस वाले स्थान पर जा रहे थे | उसी वक्त उन्हें उत्तर प्रदेश की पुलिस के द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया था | उन पर इस बात का आरोप लगाया था कि वह लोगों में हिंसा फैला रहे हैं | इसी के साथ मुसलमान लोगों को भी भड़का रहे हैं | 

लेकिन जब पुलिस ने उनकी कार में रखें पैपलेट वगैरा इत्यादि सामान को चेक किया, तब यूपी पुलिस ने पहली नजर में भड़काऊ वाले सामान को देखकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया था | दरअसल पत्रकार सिद्दीकी कप्पन दलित लड़की के हाथरस गैंगरेप की स्टोरी को कवर करने के लिए जा रहे थे | लेकिन पुलिस का कहना था कि कप्पन वहां पर गैंगरेप की स्टोरी कवर करने के बहाने पीएफआई के डेलिगेशन के सदस्य के तौर पर जा रहे थे | 

इसी के साथ में ही केरल के रहने वाले पत्रकार सिद्दीकी कप्पन को यूपी पुलिस के द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया यह कहकर कि वह हाथरस गैंग रेप हत्या कांड की स्टोरी कवर करने के बहाने पीड़ित के परिवार जनों से मिलने के बाद भड़काऊ गतिविधियां करते | इसी शक के चलते यूपी पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार भी कर लिया | 

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खारिज की जमानत की अर्जी 

साल 2020 में 5 अक्टूबर को पत्रकार सिद्दीकी कप्पन को उत्तर प्रदेश पुलिस के द्वारा हाथरस हत्याकांड गैंग रेप के खिलाफ भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था | आपको बता दें कि एक बार और इलाहाबाद हाईकोर्ट से पत्रकार सिद्दीकी कप्पन को जमानत की अर्जी भी लगाई गई थी | लेकिन इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इसे खारिज कर दिया था | 

सुप्रीम कोर्ट ने दी जमानत 

केरल के रहने वाले पत्रकार सिद्दीकी कप्पन को सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया यूयू ललित के द्वारा जमानत दे दी गई है | परंतु सुप्रीम कोर्ट के द्वारा पत्रकार सिद्दीकी कप्पन जमानत उन्हें कुछ रियायतो पर दी गई है | पिछले कुछ दिनों सोशल मीडिया पर पत्रकार सिद्दीकी कप्पन की बेटी भी वायरल हुई थी | 

पत्रकार सिद्दीकी कप्पन की बेटी सोशल मीडिया पर एक वीडियो में दिखाया जा रहा था कि, वह कह रही थी कि मैं ऐसे एक पत्रकार की बेटी हूं जिसे जेल की सलाखों में कैद कर लिया गया है | वहां पर वह लड़की देशभक्ति की भी बातें कर रही थी | लेकिन उसे अपने पिता की गिरफ्तारी पर बहुत ज्यादा अफसोस था | 

न्यूज़ क्रेडिट : एबीपी लाइव