यूयू ललित बने देश के और 49वे मुख्य न्यायाधीश, राष्ट्रपति भवन में ग्रहण की शपथ |

यूयू ललित बने 49वे भारतीय मुख्य न्यायाधीश: भारत के 49वे मुख्य न्यायाधीश यूयू ललित को चुना गया |

यूयू ललित बने 49वे भारतीय मुख्य न्यायाधीश: भारत के 49वे मुख्य न्यायाधीश यूयू ललित को चुना गया | एन वी रमन जो कि भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश थे उन्होंने अपना इस्तीफा दे दिया है | राष्ट्रपति भवन में यूयू ललित को मुख्य न्यायाधीश बनने की शपथ भी राष्ट्रपति के द्वारा दिलाई जा चुकी है | 

यूयू ललित बने देश के और 49वे मुख्य न्यायाधीश, राष्ट्रपति भवन में ग्रहण की शपथ |
(Image Credit:Google)

आपको बता दें कि भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश एन बी रमन्ना का कार्यकाल 26 अगस्त को यानी कि कल समाप्त हो चुका है | और इसी के साथ भारत के नए मुख्य न्यायाधीश यूयू ललित को बनाया गया | देश की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति भवन में यूयू ललित को शपथ दिला कर मुख्य न्यायाधीश का पदभार सौंपा | 

यूयू ललित बने भारत के नए मुख्य न्यायाधीश

भारत के नए मुख्य न्यायाधीश यूयू ललित को बनाया गया | आपको बता दें कि यूयू ललित को मुख्य न्यायाधीश बनाने की सूचना पहले ही 10 अगस्त को ऑफिशियल ही जारी कर दी गई थी | पिछले भारतीय मुख्य न्यायाधीश अर्थात चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया को कल चीफ जस्टिस के पद से इस्तीफा दे दिया गया | 

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने दिलाई शपथ 

जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं कि संविधान के नियमों के हिसाब से चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया अर्थात भारत के मुख्य न्यायाधीश को भारत की राष्ट्रपति शपथ ग्रहण करवाती हैं | इसी वजह से राष्ट्रपति भवन में शनिवार को भारत के नए चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया यूयू ललित को द्रौपदी मुर्मू ने शपथ दिलाई | इस शपथ समारोह में भारत के प्रधानमंत्री सहित कई सारे राजनेता उपलब्ध थे |

आपको बता दें कि कुछ बड़ी-बड़ी मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यूयू ललित जो कि भारत के नए चीफ जस्टिस लिस्ट बनती है | इनके दादा जी वकील के पिता जज और अब यूयू ललित भारत के नए चीफ जस्टिस चुने गए हैं | ऐसा संयोग बहुत ही कम देखने को मिलता है कि एक ही परिवार के तीन लोग वकील या जज के पद पर काम कर रहे हो | 

यूयू ललित का 3 महीने का होगा कार्यकाल 

जी हां दोस्तों आपने एक दम सही पढ़ा है | चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया अर्थात भारत के मुख्य न्यायाधीश यूयू ललित का कार्यकाल केवल नवंबर 2022 तक ही रहने वाला है | 8 नवंबर 2022 को इनका कार्यकाल पूरा हो जाएगा | ऐसा इसलिए क्योंकि संविधान के अनुसार भारत के मुख्य न्यायाधीश की अधिकतम आयु 65 वर्ष होनी चाहिए | इसी के हिसाब से 8 नवंबर 2022 को चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया यू यू ललित 65 साल के हो जाएंगे | फिर इनको भी चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया के पद से इस्तीफा देना होगा | 

दोस्तों पिछले कुछ सालों में तीन तलाक का मामला काफी ज्यादा वायरल रहा है | क्या आपको पता है कि तीन तलाक पर भी एक अहम फैसला यूयू ललित के द्वारा दिया गया था | जो कि अब भारत के चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया है | यूयू ललित ने ही तीन तलाक के मुकदमे पर प्रतिबंध लगाने का फैसला सुनाया था | जोकि मुस्लिम महिलाओं के हित में बहुत अच्छा फैसला था |