विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022 : विश्व तम्बाकू निषेध दिवस की थीम क्या है ? | World Tobacco Day 2022 Hindi

विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022 : विश्व तम्बाकू निषेध दिवस की थीम क्या है ? | World Tobacco Day 2022 Hindi ,विश्व तंबाकू निषेध दिवस ( World Tobacco Day

विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022 : पूरे विश्व भर में तंबाकू का उपयोग ना करने के लिए लोगों को जागरूक करना इतना आवश्यक हो गया है कि इससे लाखों लोगों के घर परिवार उजड़ जाते हैं | आज यानी कि 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस के रूप में मनाया जाता है | 

विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022 : विश्व तम्बाकू निषेध दिवस की थीम क्या है ? | World Tobacco Day 2022 Hindi

हेलो दोस्तों ! स्वागत है आपका INshortkhabar.com कि अपने पोस्ट में | आज के इस पोस्ट में हम आपको विश्व तंबाकू निषेध दिवस की थीम के बारे में जानकारी देने वाले हैं | और इसके साथ ही यह दिवस क्यों मनाया जाता है इसके बारे में भी आपको यहां पर नई जानकारी मिलेगी | या फिर कहे तो विश्व तंबाकू निषेध दिवस क्या है क्यों मनाया जाता है इत्यादि विषयों पर हम आज इस पोस्ट में चर्चा करने वाले हैं | 

विश्व तंबाकू निषेध दिवस ( World Tobacco Day 2022)

भारत में ही नहीं पूरे विश्व में ऐसे ना जाने कितने लोग हैं जो कि तंबाकू का सेवन करते हैं | तंबाकू के नशे में वे यह सब भूल जाते हैं कि उनकी एक फैमिली अर्थात परिवार भी होता है | जोकि उन पर निर्भर करता है | 

विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022 : विश्व तम्बाकू निषेध दिवस की थीम क्या है ? | World Tobacco Day 2022 Hindi

अगर कोई व्यक्ति तंबाकू का सेवन करता है तो उसका असर केवल उस व्यक्ति पर ही नहीं पड़ता है | बल्कि उस नशेड़ी व्यक्ति की इस आदत की वजह से पूरा परिवार सड़क पर आ जाता है | ऐसे में जो लोग तंबाकू सेवन करते हैं उन पर रोक लगाना अति आवश्यक हो गया है | 

इन सब परेशानियों से बचने के लिए पूरे विश्व में 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता है | इस दिवस का महत्व यह है कि हम लोगों को तंबाकू न खाने के लिए जागरुक कर सकें | जिससे कि उन लोगों के परिवार को टूटने से बचाया जा सके | 

नशा करने की आदत की वजह से उस व्यक्ति का घर परिवार सब कुछ बर्बाद हो जाता है | नशा करने लत इतनी बुरी आदत होती है कि, इस आदत की वजह से व्यक्ति का शरीर भी अंदर से धीरे-धीरे खोकला और कमजोर होता चला जाता है | और उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता अर्थात रोगों से लड़ने की क्षमता भी नशा करने की वजह से क्षीण हो जाती है | 

विश्व तंबाकू निषेध दिवस का इतिहास क्या है ? 

दोस्त हम आपको बता चुके हैं कि विश्व तंबाकू निषेध दिवस पूरे विश्व के लिए कितना जरूरी है | इससे किसी व्यक्ति का जो नशा करता है पूरा घर संसार तबाह हो जाता है | ऐसे में आपके मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि आखिरी यह विश्व तंबाकू निषेध दिवस कब से मनाया जा रहा है | 

साल 1987 की बात है जब विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी कि डब्ल्यूएचओ ( WHO ) एक प्रस्ताव पास किया था | इस प्रस्ताव के अनुसार 7 अप्रैल 1988 को विश्व धूम्रपान निषेध दिवस के रुप में मनाया जाना तय किया गया | 

इस प्रस्ताव की वजह से लोगों को जागरूक किया जा सके कि वह 24 घंटे में तंबाकू का सेवन ना करें | अर्थात उन्हें 1 दिन के समय में तंबाकू का सेवन ना करने के लिए, यह दिवस मनाया जाना तय किया गया | 

परंतु बाद में वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन अर्थात विश्व विश्व संगठन ने इस प्रस्ताव को संशोधित किया और तंबाकू निषेध दिवस हर साल 31 मई को मनाया जाना तय किया गया | तभी से हर साल 31 मई को तंबाकू निषेध दिवस किस लिए मनाया जाता है जिससे लोगों को प्रेरित कर पाए कि वह तंबाकू का सेवन ना करें | 

विश्व स्वास्थ संगठन की एक रिपोर्ट के अनुसार दुनिया भर में तंबाकू के सेवन करने से हर साल 80 लाख से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा बैठते हैं | इससे उस व्यक्ति की जान तो चल ही जाती है परंतु उस व्यक्ति के परिवार को भी जनधन की हानि होती है | 

विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022 की थीम क्या है ? 

दोस्तों आपको बता दे कि प्रत्येक वर्ष विश्व तंबाकू निषेध दिवस की थीम अलग-अलग रखी जाती है | जिससे लोगों को अलग अलग तरीके से प्रेरित किया जा सके | विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2022 की थीम है कि "पर्यावरण की रक्षा करें " अर्थात इस साल की टीम को पर्यावरण पर तंबाकू के प्रभाव को दर्शाने के लिए रखी गई है | 

तंबाकू के सेवन से होने वाली बीमारियां 

दोस्तों आपको बता देगी किसी भी प्रकार का तंबाकू सेवन व्यक्ति के सांस संबंधी अंगों पर ज्यादा प्रभाव डालता है | इस हिसाब से अगर आप तंबाकू का सेवन करते हैं तो आपको फेफड़ों से संबंधित बीमारियां देखने को मिलेंगी | 

इसके अलावा तंबाकू का सेवन करने से आपको मुंह का कैंसर, फेफड़ों की बीमारी, रक्त से संबंधित बीमारी इत्यादि हो सकती है | 

तंबाकू का सेवन ना करने के लिए सरकार भी कई तरह के नियम बनाती है | कई सारे निजी संस्थान भी व्यक्ति को सेवन न करने के लिए प्रेरित करते हैं | आज के समय में तंबाकू का सेवन छोड़ने के लिए कितना आसान हो गया है | मेडिकल साइंस ने कई सारी ऐसी तकनीक विकसित कर ली है |  जिनकी मदद से तंबाकू का सेवन आसानी से छोड़ा जा सकता है, अगर वह व्यक्ति चाहे तो | 

ऐसी तकरी के अधिकतर किसी पाउडर या छोड़ के रूप में व्यक्ति को खाने में मिला कर दी जाने वाली भी हो सकती है  | इस दवाई का निरंतर सेवन करने से व्यक्ति को तंबाकू का सेवन ना करने के लिए धीरे-धीरे इच्छा समाप्त हो जाती है | फिर धीरे-धीरे वह व्यक्ति अपने स्वास्थ्य में भी सुधार महसूस करता है | 

आज आपने क्या न्यूज़ पढ़ी ? 

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हमने आपको विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से मानवता की भलाई के लिए मनाए जाने वाले विश्व तंबाकू निषेध दिवस की थीम के बारे में जानकारी प्रदान की है | 

इसके अलावा हमने आपको विश्व तंबाकू निषेध दिवस का इतिहास और इसका महत्व आदि क्षेत्रों में भी आपको जानकारी प्रदान की है | अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आती है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें | जिससे उनको भी इस प्रकार की जानकारी सरल शब्दों में | 

इसके अलावा आप हमें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे कि फेसबुक इंस्टाग्राम और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं | वहां पर हम रोजाना ऐसा ही कंटेंट आपके लिए शेयर करते रहते हैं | जिससे आप की नॉलेज में चार चांद लग जाते हैं और आप खुद को दूसरों से बेहतर बना सकते हैं |