[2022] Sidhu mooswala biography Hindi : Age, Real Photo, Songs, Girlfriend, Wife, Death and Family in Hindi

[2022] Sidhu mooswala biography Hindi : Age, Real Photo, Songs, Girlfriend, Wife, Death and Family in Hindi , sidhu moose wala biography

Sidhu moose wala biography in Hindi 2022 : सिद्धू सिंह मूस वाले जो की एक सिंगर होने के साथ 2021 में उन्होंने राजनीति में भी शामिल हो गए थे | अभी हाल ही में उनकी एक बदमाश लोगों के ग्रुप ने लगभग 30 गोली मारकर हत्या कर दी है | इस समय ऐसे सिंगर को खो देना बहुत जो की अपने फैन के दिलों पर राज करता हो, बहुत दुखमय भरा है | 

[2022] Sidhu mooswala biography Hindi : Age, Real Photo, Songs, Girlfriend, Wife, Death and Family in Hindi

आज हम आपको sidhu moose wala biography ( सिद्धू सिंह की जीवनी ) के बारे में जानकारी देने वाले है | कैसे सिद्धू पाजी ने एक सिंगर से पॉलिटिक्स यानी की राजनीति में कदम रखा | उन्होंने ने कब अपने संगीत की दुनिया से नाता जोड़ा था | इसके अलावा हम आपको Sidhu moose wala परिवार के बारे में भी जानकारी देने वाले है | 


हेलो दोस्तों ! स्वागत है, आपका INshortkhabar.com की एक और नई पोस्ट में | आज की इस पोस्ट में हम आपको Sidhu moose wala biography in Hindi 2022 के बारे में बताने वाले है | अगर आप भी सिद्धू पाजी की फैन है तो यह पोस्ट में को पूरी पढ़नी चाहिए | 


Sidhu moose wala biography in Hindi ( सिद्धू सिंह की जीवनी )



सिद्धू सिंह मूसे वाला की बायोग्राफी हम उनके जन्म की तारीख और स्थान से शुरू करते हैं | इनका जन्म साल 1992 में 13 फरवरी को हुआ था | सिद्धू सिंह मूसे वाला का जन्म स्थान पंजाब के मनसा के मूसा गांव में हुआ था | हम उनके नाम से अंदाजा लगा सकते हैं कि वह एक सिख परिवार में जन्मे थे | सिद्धू मूसे वाला के पिता का नाम भोला सिंह सिद्धू और उनकी माता का नाम चरण कौर सिद्धू था | Sidhu Singh की माताजी यानी कि चरण कौर सिद्धू मूसा गांव की सरपंच रह चुकी थी | सिद्धू सिंह मूसे वाला का एक छोटा भाई भी है जिसका नाम गुरप्रीत सिंह सिद्धू है | इनका असली नाम शुभदीप सिद्धू था | लोग इन्हें प्यार से सिद्धू सिंह कहकर पुकारते थे | सिद्धू सिंह एक सिंगर होने के साथ-साथ उन्होंने 2021 में पॉलिटिक्स भी ज्वाइन कर ली थी | अभी हाल ही में सिद्धू सिंह की कुछ बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी है | उनके हत्या की तारीख 29 मई 2022 है | जब सिद्धू सिंह बनसा के निकट अपनी गाड़ी से कहीं पर जा रहे थे, तभी कुछ बदमाशों ने आकर उन पर करीब 30 से 40 गोलियां चलाकर उनकी हत्या कर दी | उनकी हत्या पर पंजाब की राज्य सरकार ने कहा है कि हत्यारों को बख्शा नहीं जाएगा |

सिद्धू सिंह मूसे वाला की शिक्षा

दोस्तों इतनी महान सिंगर जिनकी अभी हाल ही में कुछ बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी है | और हम उनकी शिक्षा के बारे में जानकारी आपको प्रदान करने वाले हैं | सिद्दू मूसे वाला की प्रारंभिक शिक्षा उनके जन्म स्थान के मनसा SVM से हुई थी | सिद्धू सिंह मुसेवाला को बचपन से ही संगीत से काफी प्यार था | एक बार उनकी स्कूली समय में संगीत प्रतियोगिता का आयोजन उनकी स्कूल में किया गया | तब उन्होंने संगीत प्रतियोगिता में भाग लिया | तभी से ही उन्हें संगीत में काफी मजा आने लगा | परंतु उनके घरवाले इस बात से राजी नहीं थे कि उनका करियर संगीत की दुनिया से जुड़ा रहे | उन्होंने अपने परिवार वालों के दबाव में आकर अपनी पढ़ाई को तो जारी रखा ही | इस बीच जब उन्हें कभी कभी समय मिलता तब भी अपनी संगीत की प्रैक्टिस किया करते थे | सिद्धू सिंह ने अपनी ग्रेजुएशन गुरु नानक देव इंजीनियरिंग कॉलेज से की थी | कॉलेज में उन्होंने बीटेक की डिग्री को हासिल किया था | उनके कॉलेज के समय के दौरान जब कॉलेज में पार्टियां होती थी, तब सिद्धू सिंह मूसे वाला कॉलेज के पार्टियों में गाना गाया करते थे | कॉलेज की पार्टी को में गाना गाते-गाते, सिद्धू सिंह कॉलेज में मशहूर हो गए की सभी कॉलेज के विद्यार्थियों और अध्यापकों को उनके द्वारा गाए गए गाने काफी पसंद आने लगे थे | ना केवल उनके द्वारा गाए जाने वाले गाने लोगों को पसंद आ रहे थे बल्कि उनकी आवाज भी लोगों के दिल को छू जा रही थी | ऐसे ही चलते चलते उनकी डिग्री भी कंप्लीट हो गई |

सिद्धू सिंह मूसे वाला का करियर

जैसा कि हम आपको बता ही चुके हैं कि सिद्धू सिंह मूसे वाला के ऊपर अपने परिवार वालों का जवाब था | इस वजह से उन्होंने अपने स्कूल और कॉलेज के समय अपने सपने को और अपने Passion को फॉलो नहीं कर पाए थे | लेकिन जैसे ही उनकी बीटेक की डिग्री कंप्लीट हुई, उन्होंने अपने करियर के बारे में सोचा | और निर्णय लिया कि मैं अब अपने Passion को फॉलो करूंगा | जब सिद्धू सिंह मूसे वाला की बीटेक की डिग्री कंप्लीट हो गई थी, तब उन्हें कोई सपोर्ट नहीं कर रहा था | अर्थात जब सिद्दू मूसे वाला अलग-अलग स्टूडियो में अपना गाना गाने के लिए रिक्वेस्ट करते थे | तब उन्हें कोई भी स्टूडियो वाला अपने स्टूडियो में गाना गाने की परमिशन नहीं देता था | कई बार तो सिद्धू सिंह जब स्टूडियो में गाना गाने की रिक्वेस्ट करते थे तब कुछ स्टूडियो वाले उनसे जानबूझकर पैसे मांगा करते थे | वह पैसा देने से मना कर दिया करते थे फिर उन्हें स्टूडियो वाले गाना गाने का मौका भी नहीं दिया करते थे | साल 2015 की बात है, जब सिद्धू सिंह मूसे वाला का करियर सही मायने में शुरू होता है | अर्थात साल 2015 में सिद्धू सिंह मूसे वाला को पंजाब के एक लोकप्रिय गीतकार का कॉल आता है | वह गीतकार सिद्धू सिंह मूसे वाला से कहता है कि मैं तुम्हें गाना गाने के लिए अपना लिरिक्स देने के लिए तैयार हूं | आप सुबह हमारे गांव आकर यह लिरिक्स ले जा सकते हैं | इस कॉल के बाद सिद्धू सिंह की खुशी में चार चांद लग चुके थे | सिद्धू सिंह मूसे वाला ने इस गाना गाने के पश्चात सोचा कि क्यों ना मैं खुद ही अपने गाने लिखूं | और इसी सोच के साथ उन्होंने अपने गाने लिखना और उन्हें गाना भी शुरू कर दिया | फिर सिद्धू सिंह मूसे वाला कि सुपरस्टार बनने का सपना एक बार फिर से जाग चुका था | जैसा कि हम आपको बता ही चुके हैं कि सिद्धू सिंह मूसे वाला ने अब अपने लिरिक्स के लिए खुद ही गाने लिखने का फैसला कर लिया था | उनके द्वारा लिखा गया पहला गाना लाइसेंस था | इस गाने के लिरिक्स को निंजा के द्वारा भी एक्सेप्ट कर लिया गया था | सिद्धू सिंह मूसे वाला ने अपना पहला गाना लांच किया था तब वह गाना ही उनका सुपर हिट हो गया था | इसी गाने के साथ सिद्धू सिंह सुपरस्टार बनने की तरफ चल चुके थे | और देखते ही देखते उनका सुपरस्टार बनने का सपना भी पूरा हो चुका था | इसके बाद जितने भी गाने सिद्धू सिंह के द्वारा गाए गए और लेकर गए थे बस अभी लोकप्रिय होते गए | लोगों ने उनके द्वारा गाए गए गाने को काफी पसंद भी किया |

आज आपने क्या न्यूज़ पढ़ी ?

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हमने आपको सिद्धू सिंह मूसे वाला की बायोग्राफी के बारे में जानकारी प्रदान की है | अगर आपको सिद्धू सिंह के जीवनी से संबंधित यह पोस्ट पसंद आई हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें |

इसके अलावा आप हमें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे कि फेसबुक इंस्टाग्राम और टि्वटर पर भी फॉलो कर सकते हैं | क्योंकि आप आराम रेगुलर ऐसा ही कंटेंट पोस्ट करते रहते हैं | जिससे आप की नॉलेज में भी चार चांद लग जाते हैं |