Albert Einstein Birth Anniversary : अल्बर्ट आइंस्टीन के जन्मदिवस पर उनकी Biography के बारे में जानिए की कैसे बने विश्व के महान बैज्ञानिक

Albert Einstein Birth Anniversary ,अल्बर्ट आइंस्टीन के जन्मदिवस पर उनकी Biography के बारे में जानिए की कैसे बने विश्व के महान बैज्ञानिक

Albert Einstein Birth Anniversary :अल्बर्ट आइंस्टीन  के जन्मदिवस पर उनकी Biography के  बारे में जानिए की कैसे बने विश्व के महान बैज्ञानिक |  

अल्बर्ट आइंस्टीन का जन्म 14 मार्च 1879 को जर्मनी में हुआ था | अल्बर्ट आइंस्टीन को विश्व का महान वैज्ञानिक माना जाता है | अल्बर्ट आइंस्टीन के जन्मदिन पर हम उनकी बायोग्राफी के बारे जानेंगे | 

Albert Einstein Birth Anniversary

Biography of Albert Einstein in Hindi : अल्बर्ट आइंस्टीन को कौन नहीं जानता |अल्बर्ट आइंस्टीन  विश्व के सबसे महान वैज्ञानिकों में सबसे ऊपर जिन व्यक्ति का नाम आता है उनका नाम अल्बर्ट आइंस्टाइन है |  उन्हें यह विश्व ख्याति स्पेशल थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी अर्थात सापेक्षता का सिद्धांत की खोज करने के लिए दी गई थी | 

अल्बर्ट आइंस्टीन का जन्म सन 1879 में  14 मार्च को उल्म ( जर्मनी ) हुआ था | आज   14 मार्च है और उनका जन्मदिन भी आज ही है | अल्बर्ट आइंस्टाइन एक भौतिक शास्त्री थे |  जिनकी रुचि विज्ञान की भौतिक शाखा अर्थात फिजिक्स में थी| 

अल्बर्ट आइंस्टीन को संपूर्ण विश्व में उनकी एक खोज के लिए जाना जाता है |  जिसका नाम है  थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी |   इसे हिंदी में सापेक्षता सिद्धांत के नाम से भी जाना जाता है | यह थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी दो प्रकार की होती है | 

1.  जनरल थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी 

2 .  स्पेशल थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी 

अल्बर्ट आइंस्टाइन ने  वैसे तो अपने जीवन में कई खोज की है | परंतु उनकी तरफ से महत्वपूर्ण खोजों में इन दोनों ही थ्योरी का नाम आता है |   इन दोनों थ्योरी की चलती हुई अल्बर्ट आइंस्टाइन ने इन दोनों सिद्धांतों की गणिती व्याख्या भी दी थी जिसका गणितीय रूप E=MC Square है | 


इस गणितीय रूप में E  का मतलब Energy अर्थात ऊर्जा का प्रतीक और M किसी पिंड का द्रव्यमान अर्थात Mass  है | और c एक नियत  राशि है | जिसका मतलब इंग्लिश में Constant  होता है | अर्थात जिस चीज का मान   निश्चित होता है उसे हम नियत अर्थात Constant  बोलते हैं | और यहां C का मान 3 लाख Meter/second है |  जो कि एक प्रकाश की गति को भी निरूपित करता है |  अर्थात प्रकाश की गति भी नियत होती है | 


अल्बर्ट आइंस्टीन का जीवन परिचय : अल्बर्ट आइंस्टीन एक विश्व प्रसिद्ध वैज्ञानिक और सैद्धांतिक भौतिक विज्ञानी हैं। उन्होंने सरल सापेक्षता का सिद्धांत विकसित किया। उसका नाम विज्ञान के दर्शन को प्रभावित करने के लिए भी प्रसिद्ध है। अल्बर्ट आइंस्टीन का दुनिया में सबसे प्रसिद्ध नाम द्रव्यमान-ऊर्जा के समीकरण के लिए है, सूत्र E=MC वर्ग, यह दुनिया का सबसे प्रसिद्ध समीकरण है। अल्बर्ट आइंस्टीन ने अपने जीवन में कई आविष्कार किए, कुछ आविष्कारों के लिए आइंस्टीन का नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज है। वह एक सफल और बहुत बुद्धिमान वैज्ञानिक थे। आधुनिक समय में उन्होंने भौतिकी को सरल बनाने में बहुत योगदान दिया है। 


1921 में, अल्बर्ट आइंस्टीन को उनके आविष्कारों के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। अल्बर्ट आइंस्टीन ने कड़ी मेहनत करके यह मुकाम हासिल किया। उन्हें गणित में भी बहुत रुचि थी। उन्होंने भौतिकी को सरल तरीके से समझाने के लिए कई अविष्कार किए, जो लोगों के लिए प्रेरणादायी है।अल्बर्ट आइंस्टीन एक विश्व प्रसिद्ध वैज्ञानिक और सैद्धांतिक भौतिक विज्ञानी हैं। उन्होंने सरल सापेक्षता का सिद्धांत विकसित किया। उनका नाम विज्ञान के दर्शन को प्रभावित करने के लिए भी प्रसिद्ध है। 


अल्बर्ट आइंस्टीन का दुनिया में सबसे प्रसिद्ध नाम द्रव्यमान-ऊर्जा के समीकरण के लिए है, सूत्र E=MC वर्ग, यह दुनिया का सबसे प्रसिद्ध समीकरण है। अल्बर्ट आइंस्टीन ने अपने जीवन में कई आविष्कार किए, कुछ आविष्कारों के लिए आइंस्टीन का नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज है। वह एक सफल और बहुत बुद्धिमान वैज्ञानिक थे। आधुनिक समय में उन्होंने भौतिकी को सरल बनाने में बहुत योगदान दिया है। 1921 में, अल्बर्ट आइंस्टीन को उनके आविष्कारों के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। अल्बर्ट आइंस्टीन ने कड़ी मेहनत करके यह मुकाम हासिल किया। उन्हें गणित में भी बहुत रुचि थी। उन्होंने भौतिकी को सरल तरीके से समझाने के लिए कई अविष्कार किए, जो लोगों के लिए प्रेरणादायी है।


जीवन परिचय एक नजर में - 


पूरा नाम : अल्बर्ट हेर्मन्न आइंस्टीन 

जन्म स्थान : उल्म जेर्मनी 

जन्म दिवस : 14 मार्च 1879 

पिता का नाम : हरमन आइंस्टीन 

माता का नाम : पौलिने आइंस्टीन 

निवास स्थान : जर्मनी , स्विटजरलैंड , USA , UK , इटली 

पत्नी : मरिअक (पहली पत्नी), एलिसा लोवेन्न थाल (दूसरी पत्नी)

शिक्षा : स्विट्ज़रलैंड, ज्यूरिच पॉलीटेक्निकल अकादमी

पुरस्कार : भौतिकी का नॉबल पुरस्कार, मत्तयूक्की मैडल आदि 

कार्य क्षेत्र : भौतिकी 

मृत्यु : 18 अप्रैल 1955 


अंतिम शव्दों में : 


आज की इस पोस्ट में हमने आपको अल्बर्ट आइंस्टीन  के जन्मदिन परनकी बायोग्राफी और उनके द्वारा की गई खोज के बारे में जानकारी प्रदान की है और आपको यह जानकारी अच्छी लगती है तो आप इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ जरूर साझा करें जिससे उनको भी इसके बारे में जानकारी मिल सके |