HomeBCCIजय शाह ने विकलांग क्रिकेटरों के लिए बाधाओं को दूर करने...

जय शाह ने विकलांग क्रिकेटरों के लिए बाधाओं को दूर करने में खुशी जताई

 

जय शाह ने  विकलांग क्रिकेटरों के लिए बाधाओं को दूर करने में खुशी जताई

विकलांग क्रिकेटरों के लिए बाधाओं को दूर कर खुशी हो रही है 

बीसीसीआई सचिव का कहना है कि विकलांग खिलाड़ियों को क्रिकेट बोर्ड के संसाधनों और विशेषज्ञता से फायदा होगा भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह ने अपने विंग के तहत राष्ट्रीय निकाय में क्रिकेट को अलग करने का निर्णय लेने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। 

हिंदुस्तान टाइम्स के साथ बातचीत में, शाह ने चुनौतियों और आगे क्या होने के बारे में बात की। बीसीसीआई को विकलांगों के लिए क्रिकेट को अपने पंखों के नीचे लेने में लगभग 10 साल लग गए। बीसीसीआई को कैसे यकीन हो गया?

जब मुझे बोर्ड के सचिव के रूप में चुना गया था, यह एक ऐसा क्षेत्र था जो मेरे दिल के करीब था, और मैं कुछ अलग करना चाहता था। मैं अपने विकलांग क्रिकेटरों के लिए एक प्रणाली बनाने के लिए बहुत उत्सुक था ताकि वे बीसीसीआई के संसाधनों और विशेषज्ञता का लाभ उठा सकें। मुझे खुशी है कि हमने बाधाओं को दूर कर दिया है और हम यहां से आगे बढ़ते रहेंगे।

भारत में कई स्थानीय निकाय हैं जो विकलांग क्रिकेटरों से निपटते हैं। उनके साथ क्या हुआ?

जब हमने विकलांग क्रिकेटरों की पहचान करने और पहचानने की प्रक्रिया शुरू की, तो चार से पांच अलग-अलग निकायों ने मुझसे संपर्क किया, जिनमें से सभी पहचाना जाना चाहते थे। उन सभी को एक छत्र के नीचे लाने, उनकी चिंताओं को समझने और उनका उचित प्रतिनिधित्व सुनिश्चित करने में बहुत समय लगा।

अगला कदम क्या है?

हमारा उद्देश्य बिल्कुल स्पष्ट था कि मान्यता प्राप्त संस्था को अपनी प्रक्रिया में, अपने दैनिक कामकाज में, अपने संचालन में और अपनी चयन नीतियों में बिल्कुल पारदर्शी होने की आवश्यकता होगी ताकि प्रतिभाशाली क्रिकेटरों को नुकसान न हो। अब जबकि वे बीसीसीआई के अधीन हैं, हमने उन्हें कुछ दिशानिर्देश दिए हैं जिसके तहत बीसीसीआई से संबद्ध सभी मैच होते हैं। हमारी कमेटी विकास का रोडमैप तैयार कर रही है और जल्द ही इसे बोर्ड के सामने पेश करेगी।

https://www.inshortkhabar.com/feeds/posts/default?alt=rss
RELATED ARTICLES

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments